ImbibeMe

5
(1)

यह लेख English में पढ़ें। 

यह लेख शेयर करें

परिचय

सीजेरियन सेक्शन द्वारा डिलीवरी क्या है?

सीजेरियन सेक्शन आपके बच्चे को आपके गर्भाशय में किए गए चीरे के माध्यम से डिलीवरी का एक ऑपरेशन है। सीजेरियन सेक्शन एक प्रमुख ऑपरेशन है, यह केवल तब किया जाता है जब यह आपके और आपके बच्चे के लिए सबसे सुरक्षित विकल्प होता है।

सिजेरियन सेक्शन के बाद उठना/ चलना

ऑपरेशन के बाद, यह महत्वपूर्ण है कि आप अपने शरीर को ठीक होने के लिए कुछ आराम दें। क्योंकि आपके पेट का ऑपरेशन हुआ है, अपने शरीर को समय दें , बहुत जल्द बहुत उम्मीद न करें। थोड़ा हिलना – जगह में बैठना, हालांकि, प्रोत्साहित किया जाता है यदि आप शुरूवात के 4 – 6 घंटे बाद सहज महसूस करते हैं। ऑपरेशन के बाद जल्दी पहले जैसे चलने फिरने से अंतड़ीयों का स्वास्थ्य जल्द लौटता है | इससे अतड़ियो में गैस के निर्माण जैसी समस्याएं कम होती हैं। इससे पैरों में पिंड/गांठ बनने की संभावना भी कम हो जाती है।

सीजेरियन ऑपरेशन के बाद पहला दिन

उठना अकड़न से बचने के लिए नियमित रूप से स्थिति बदलने की कोशिश करें। चलते समय, सीधे खड़े होने की कोशिश करें |

बिस्तर से उठने के लिए उठते समय एक करवट पर होकर फिर उठें। अपने पैरों को किनारे से नीचे लाये और अपने हाथ पर जोर देते हुए उठें। अगर ज़रूरत हो तो दूसरे हाथ से अपने पेट का सहारा लें।  

बिस्तर में वापस जाने के लिए इसका उल्टा करें। बिस्तर के किनारे पर बैठें, हाथ का सहारा लेते हुए एक करवट पे लेटें, और फिर धीरे से पने पैरों को बिस्तर पर लायें ।

बिस्तर से उठने में और बिस्तर पर लौटते समय शुरुवात के दिनों में असुविधा हो सकती है |

छाती/फेफड़ों की देखभाल

पूर्ण फेफड़ों के विस्तार के लिए प्रति घंटा दो या तीन गहरी साँस लें। खांसने, छींकने या हंसने पर, अपने घुटनों को मोड़ें और दर्द से बचाव के लिए अपने हाथों से अपने सीज़र के टाके को सहारा दें । एक तकिया या एक मुड़े हुए तौलिये का उपयोग अतिरिक्त सहायता प्रदान कर सकता है।

मूत्राशय की देखभाल

कैथेटर हटा दिए जाने के बाद, 4 घंटे के भीतर पेशाब करना महत्वपूर्ण है। यह महत्वपूर्ण है क्योंकि यह मूत्राशय को फैलने और क्षतिग्रस्त होने से बचाता है।

सीजेरियन सेक्शन के बाद पहले सप्ताह में, आपको मूत्राशय के भर जाने का ध्यान नहीं हो सकता है, इसलिए जब आप जाग रहे हों तो हर 2 से 3 घंटे में पेशाब को पास करने की कोशिश करें। इससे मूत्राशय को नुकसान से बचा सकते हैं

यदि आपको कठिनाइयाँ हैं: – पेशाब पास करने में, मूत्राशय खाली करने मे या यदि आप अच्छी मात्रा में पेशाब पास नहीं कर पाते हैं, तो मदद के लिए डॉक्टर या नर्स से सलाह लें।

पेट या कंधों में असुविधा

यदि आप ऑपरेशन के बाद अपने पेट या कंधों में असुविधा का अनुभव करते हैं, तो यह ऑपरेशन के दौरान फंसी हुई हवा के कारण हो सकता है।

निम्नलिखित बातों से मदद मिल सकती हैं:

  • एक हाथ से अपने टाँके को समर्थन देते हुए, अपने पेट को धीरे-धीरे गोलाकार दिशा में मालिश करें।
  • बिस्तर पर लेट जाये, घुटने मोड़ें और पैर बिस्तर पर रखें, अपने घुटनो को दायी से बायीं ओर फिर बायीं से दायी ओर घुमाये
  • चलें और फिरें – थोड़ा पर अक्सर।

कब्ज़

सीज़ेरियन डिलीवरी के बाद बहुत सी महिलाओं को कब्ज का अनुभव होता है। निम्नलिखित सुझाव मदद के हो सकते हैं: –

  • रोजाना कम से कम 1 – 2 लीटर पानी या तरल पदार्थ पीने की कोशिश करें।
  • चलना या हिलना कब्ज़ में मददायी होता है।
  • जुलाब पर निर्भर होने से बचें; काम समय के लिए उपयोग करें।
  • जिस टॉयलेट में उकडूं बैठने की ज़रूरत होती है उससे बचें क्योंकि यह टांके पर दबाव बढ़ा सकता है।
  • इस तरह से शौचालय पर बैठें जो आपकी मुद्रा में मदद करे और असुविधा से बचाए। इससे शौच में भी मदद होगी। चित्र में दिखाए अनुसार बैठें:
    1. एक ४ – ६ इंच की पेटी का इस्तेमाल करने से आप समर्थित महसूस करें।
    2. आगे झुकें
    3. पेड़ू के तल की मांसपेशियों को आराम दें, अपने पेट की मदद से सांस लें और इसे आगे बढ़ने दें।
    4. पीछे होके आराम करें, फिर आगे झुकें और फिर से कोशिश करो।

विज्ञापन

सिजेरियन सेक्शन के बाद वजन उठाना

सीजेरियन सेक्शन के बाद चार से छह सप्ताह तक नवजात बच्चे से अधिक भारी कुछ भी न उठाएं। ऑपरेशन के बाद कटे हुए हिस्से को सामान्य शक्ति की तुलना से 50 प्रतिशत ताकत आने में चार से छह सप्ताह लग जाते है। भारी सामान उठाने से अथवा उकडूं बैठने से पेट की मांसपेशियों पर ज़ोर आता है और इससे टाकेँ पर ज़ोर पड़ता है | ऐसा ऑपरेशन के बाद के ६ हफ़्तों तक नहीं करना चाहिए।

अपने बच्चे को उठाना

  • अपने बच्चे को उठाने के लिए, अपने पेड़ू के तल की मांसपेशियों में खिंचाव करें, घुटनों से झुकें और अपनी पीठ को सीधा रखें। जैसे ही आप उठाते हैं लोड को अपने शरीर के करीब रखें।
  • पहले चार हफ्तों के दौरान अपने बच्चे (या 4 किलोग्राम से अधिक) से भारी कुछ भी उठाने से बचने की कोशिश करें।
घर पर यदि बड़े बच्चे हो तोह : -

यदि आपके पास घर पर २ – ३ वर्ष की आयु के बच्चे हैं, तो उन्हें उठाने से बचें। जब आप बैठे हों तो उन्हें अपने ऊपर चढ़ने के लिए प्रोत्साहित करें।

डिस्चार्ज होने के बाद घर जाना

याद रखें कि आपका ऑपरेशन हुआ है और आपको ठीक होने में समय लगेगा , इसलिए अपनी गतिविधि के स्तर को धीरे-धीरे बढ़ाएं जितना आप सुखद महसूस करें।

घर जाते समय आप बहुत थका हुआ महसूस कर सकते हैं, इसलिए होने आप से ज़्यादा उम्मीद ना करें, अपने आप को समय दें और अपने मेहमानों के आने जाने को सीमित करें। अपने आप को आराम करने और ठीक होने का समय दें।  

जब आपका बच्चा सोता है तो सोने की कोशिश करें।

अपने घाव की देखभाल

सीजेरियन सेक्शन के २ सप्ताह के बाद, जब घाव का निशान ठीक हो गया हो, तो आप घाव के पास हलके हाथों से मालिश शुरू कर सकते हैं।

मालिश का उपयोग दर्द दूर करने, मांस-तंतु के फाइबर को तोड़ने, खुजली को दूर करने, निशान को खींचने और मांस-तंतु में जल की मात्रा को कम करने में मदद करता है |

आपके डॉक्टर आम तौर पर आपको बताएगें यदि आपको ऐसी कोई समस्या है जो आपको अपने घाव की मालिश करने की अनुमति नहीं देता है, अन्यथा, अपने डॉक्टर से इस बारें में सलाह लें |

  • अपनी पीठ पर लेट जाएं जिससे आपकी मांसपेशियां आराम कर सकें।
  • त्वचा को हाइड्रेट करने और इसे कोमल बनाने के लिए दिन में दो या तीन बार एक गैर-सुगंधित मॉइस्चराइज़र से धीरे से मालिश करें।
  • अपनी उंगली का उपयोग करें – निशान को एक गोलाकार गति में घुमाने के लिए, धीमी लेकिन दृढ़, लगभग 20 – 30 बार के लिए, अगर निशान सख़्त लगता है। 

स्तनपान

  • अच्छी तरह से पीठ को समर्थन देके एक आरामदायक कुर्सी पर बैठें। हथियारों के साथ वाली कुर्सी आपको अधिक आराम प्रदान करेगी । आपकी कमर के पीछे एक पतला तकिया या मुड़ा हुआ तौलिया होने से आपको फायदा होगा ।
  • जब स्तनपान करने के लिए बिस्तर पर बैठे, तो अपनी पीठ न झुकाएँ और अपनी पीठ को अच्छी तरह से समर्थित रखें। बिस्तर पे इस्तेमाल होने वाला हाथ आराम अतिरिक्त आराम प्रदान करेगा |
  • अपनी गोद में तकिया रखकर बच्चे को स्तन तक लाये और झुकने से बचें।
  • जब आप स्तनपान कर रहे हो तो अपनी पीठ को समर्थन दे और कन्धों को आराम दे |
  • एक करवट पर लेट कर स्तनपान करना भी आरामदायक होता है |

विज्ञापन 

डायपर बदलना और स्नान कराना : -

  • पीठ के दर्द को रोकने के लिए बार बार झुकने से बचें, उदाहरण के लिए, ए डायपर बदलने की सुविधा को कमर की उचाई पे रखें।
  • इसी तरह, अपने बच्चे को आपके लिए सही ऊंचाई वाली एक सतह पर स्नान कराएं।

विज्ञापन 

घर का काम

  • ऑपरेशन के बाद के कुछ हफ्तों में, पेट पर या पेल्विक फ्लोर की मांसपेशियों पर ज़ोर देने वाले कामो से बचे, जैसे की लम्बे समय तक खडा रेहना।
  • पहले 6 हफ्तों में भारी सामान उठाने से बचें, जैसे की गीले कपड़े या बर्तन की टोकरी।

सिजेरियन सेक्शन के बाद ड्राइविंग

  • आप सिजेरियन सेक्शन के 6 सप्ताह बाद ड्राइविंग पर लौट सकते हैं।
  • इससे पहले कि आप ड्राइविंग शुरू करें, सुनिश्चित करें कि आप सहज महसूस करते हैं और आप ध्यान केंद्रित कर सकते हैं। अगर आपने अच्छी नींद नहीं ली है और ध्यान केंद्रित नहीं कर पा रहे हैं तो ड्राइविंग न करें।
  • यदि आपको ड्राइवर की आवश्यकता वाली सामान्य गतिविधियों (जैसे शरीर या सिर को मोड़ना, ब्रेक / एक्सेलरेटर दबाना, स्टीयरिंग मोड़ना) के साथ दर्द होता है, तो आपको ड्राइविंग से बचना चाहिए।

कार में बच्चे की सुरक्षा

  • कार में उम्र के उपयुक्त बच्चे के संयम पट्टे का उपयोग करके बच्चे की सुरक्षा सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है|  ऐसा करने के लिए बेबी कार  सीट का उपयोग करें।

विज्ञापन 

खेल में लौटना

  • सिजेरियन सेक्शन के 6 सप्ताह बाद तैरना सुरक्षित है।
  • कम प्रभाव वाले व्यायाम, जैसे कि योगा, कम प्रतिरोध जिम में व्यायाम धीरे-धीरे 8 सप्ताह के बाद शुरू किए जा सकते है।
  • उच्च प्रभाव वाले व्यायाम, जैसे एरोबिक्स, रनिंग या प्रतिरोध / भार प्रशिक्षण 12 सप्ताह के बाद धीरे-धीरे शुरू किया जा सकता है।

विज्ञापन 

विज्ञापन

यह लेख शेयर करें

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 5 / 5. Vote count: 1

No votes so far! Be the first to rate this post.

Follow us on social media!

We are sorry that this post was not useful for you!

Let us improve this post!

Tell us how we can improve this post?